दिमाग तेज करने के उपाय

0
447

दिमाग तेज करने के उपाय

 

 mukhya dwar vastu

हर व्यक्ति चाहता है कि उसकी स्मरण शक्ति त्रीव हो, उसे अपने मित्रों – शुभचिंतको, परिचित लोगो के नाम, नंबर , चेहरे, अपनी पढ़ाई, और अपनी जरुरत की सभी चीज़े याद रहे । वस्तुत: जिस इन्सान की स्मरण शक्ति तेज होती है उसे कामयाबी भी आसानी से मिल जाती है । चाहे वह पढ़ाई का क्षेत्र हो, नौकरी का, व्यापार का या अन्य कोई भी अगर आपकी स्मरण शक्ति तेज है तो आप अलग ही नज़र आएंगे । अगर कोई व्यक्ति मेहनती और मिलनसार है और उसकी स्मरण शक्ति भी तेज है तो उसकी सफलता की सम्भावना बहुत बड़ जाती है ।

आज के समय की भाग दौड़ वाली इस जिंदगी में जहाँ पर काम का बहुत ही ज्यादा दबाव होता है हम सभी बहुत से छोटे छोटे अपने दैनिक कार्य भी भूल जाते है जिनके समय पर याद न आने पर बाद में बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। यह भूलने की समस्या बच्चो, बूढो और जवानो सभी के साथ होती है । लेकिन उम्र बढ़ने के साथ साथ हमारी स्मरण शक्ति अपने आप कमजोर होती जाती है।

समान्यता हमारे मस्तिष्क का केवल 5 से 8 प्रतिशत भाग ही सक्रिय रहता है शेष भाग सुप्त अवस्था में रहता है, जिसमें अनंत ज्ञान असीम सम्भावनाएं छिपी रहती है। इस भाग को सक्रीय रखने के लिए हमें कुछ खास किन्तु आसन से नियमो का पालन करना पड़ेगा और अगर हम अपने सुप्त मस्तिष्क को सक्रिय रख पाए तो हम बहुत ऊँचाइयों को छू सकते है ।

यहाँ पर हम कुछ आसान से घरेलू उपाय को बता रहे है जिससे आप सभी निश्चित ही अपना दिमाग तेज कर सकते है। विद्यार्थियों को तो इन उपायों को अवश्य ही करना चाहिए जिससे अपनी पढ़ाई में उन्हें श्रेष्ठ अंक प्राप्त हो सके ।

1.ब्राह्मी :– ब्राह्मी दिमागी शक्ति बढ़ाने की बहुत ही मशहूर जड़ी-बूटी है। इसका नित्य एक चम्मच सेवन करना बहुत ही लाभदायक होता है। ब्राह्मी मे एन्टी ऑक्सीडेंट तत्व पाये जाते हैं जिससे हमारे दिमाग की शक्ति बढ़ती है दिमाग काम के ज्यादा बोझ के बाद भी थकता नहीं है।

2.बादाम :– बादाम हमारे दिमाग की कार्य क्षमता बढ़ाने में बहुत मदद करता है । 5 बादाम को रात में पानी में भिगो दें । सुबह इनके छिलके उतारकर इन्हे बारीक पीस कर इसका पेस्ट एक गिलास हलके गुनगुने दूध में 2 चम्मच शहद डाल कर अच्छी तरह से मिला कर ग्रहण करें। कोशिश करें कि इसका सेवन करने के लगभग 1 घंटे तक कुछ भी ना लें। इसके नित्य सेवन से थोड़े ही समय में आपका दिमाग कंप्यूटर की तरह काम करने लगेगा ।

10 बादाम को रात में पानी में भिगोकर सुबह उनका छिलका उतार कर इसे 10 ग्राम मक्खन और 10 मिश्री के साथ मिलाकर लगातार खाने से दिमाग बहुत तेज हो जाता है, भूलने की समस्या समाप्त हो जाती है ।

3.अखरोट :– अगर आप चाहते है कि आपकी स्मरण शक्ति बहुत ही तेज हो तो आप नित्य अखरोट का सेवन अवश्य ही करें । हमारे दिमाग की संरचना बिलकुल अखरोट की तरह ही होती है । हमें नित्य 20 ग्राम अखरोट 10 ग्राम किशमिश के साथ चाहिए। इससे दिमाग तेज होता है, हमें चीज़े लम्बे समय तक याद रहती है । लेकिन गर्मी में इसका प्रयोग कम करना चाहिए ।

अदरक ,जीरा और मिश्री तीनों को बराबर मात्रा में लेकर पीस लें फिर सुबह शाम दिन में 2 बार दूध के साथ इसका सेवन करने से यादाशत कमजोर नहीं पड़ती है ।

4.अलसी का तेल :– अलसी का तेल हमारी स्मरण शक्ति और एकाग्रता दोनों ही बढाता है। इसके सेवन से दिमाग बहुत ही सक्रीय रहता है । अलसी एक तेल का नियमित रूप से सेवन करने से मष्तिष्क सम्बन्धी कोई भी बीमारी नहीं होती है। छात्रों और दिमागी काम करने वालो को इसे अवश्य ही लेना चाहिए ।

5.दालचीनी :– नित्य रात को सोते समय 10 ग्राम दालचीनी के पाउडर को शहद में मिलाकर चाट लें, और फिर कुछ भी नहीं लें । इससे दिमाग की कमजोरी दूर होती है, काम में मन भी लगता है ।

6.काली मिर्च :– प्रतिदिन 6 से 7 काली मिर्च में 25 से 30 ग्राम मक्खन और मिश्री मिलाकर खाने से भूलने की बीमारी दूर होती है, दिमाग तेज रहता है ।

7.आंवले का मुरब्बा :– सुबह खाली पेट आंवले का मुरब्बा खाने से दिल और दिमाग दोनों को ही ताकत मिलती है।

दिमाग को तेज करने के लिए एक चम्मच आंवले का रस 2 चम्मच शहद मे मिलाकर उसका सेवन करें। इससे भूलने की बीमारी दूर होती है ।

8.गुलकन्द :– विधार्थियों को गुलकन्द को नित्य दिन में दो से तीन बार खाना चाहिए इससे भी स्मरण शक्ति तेज होती है, पढ़ा हुआ पाठ याद रहता है ।

9.पालक :– स्मरण शक्ति या दिमाग तेज करने के लिए पालक सर्वोतम आहार माना जाता है । पालक में विटामिन बी 9 जिसे फोलेट या फोलिक एसिड के नाम से भी जाना जाता है प्रचूर मात्रा में पाया जाता है। विटामिन बी 9 के अलावा पालक में विटामिन बी 2 और विटामिन बी 6 भी पाए जाते हैं जो हमारे दिमाग को बेहद सक्रीय बनाते है । पालक में ओमेगा 3 फैटी एसिड्स भी प्रचूर मात्रा में होते हैं जो हमारे मष्तिष्क के लिए बहुत हीं आवश्यक होता हैं । इससे हमारी स्मरण शक्ति एकाग्रता बढती है, हमारा मन काम में लगता है हमें मानसिक थकान भी नहीं होती है । पालक में विटामिन ए, के, इ, सी, तथा जरुरी खनिज जैसे जिंक, मैगनिसिअम , कैल्सियम इत्यादि भी पाए जाते हैं। इसलिए नियमित रूप से पालक का सेवन करें।

लेकिन जिन लोगों को गुर्दे की पथरी की अथवा गुर्दे की कोई और बीमारी है उन्हें पालक का सेवन नहीं करना चाहिए।

10.गेहूँ के पौधे का रस :– स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए गेहूँ के पौधे का रस भी बहुत ही लाभदायक है । इसको कुछ दिनों तक नित्य पीने से भूलने की बीमारी दूर होती है, स्मरण शक्ति बढ़ती है ।

11.डार्क चॉकलेट :– डार्क चॉकलेट यानि भूरे रंग के चॉकलेट से भी स्मरण शक्ति तेज होती है दिमाग की कार्यक्षमता बढ़ती हैं लेकिन इसे कम ही खाना चाहिए क्योंकि इसके ज्यादा सेवन से वजन बढ़ता है ।
yaddash-badhane-ke-upay
12.जामुन :– दिमाग तेज करने के लिए गर्मी के दिनों में जामुन का भी अवश्य ही सेवन करना चाहिए । जामुन में आपकी स्मरण शक्ति तेज करने की पूरी क्षमता होती है।इसमें फीसेटिन पाया जाता है जिसकी वजह से हमको पिछली बाते या पढ़ी या सुनी गई बातें याद करने में बहुत मदद मिलती है।

13.घी से मालिश:–अगर किसी को लगता है कि उसकी स्मरण शक्ति कमजोर हो रही है, उसका काम में मन नहीं लगता है तो गाय के घी से सिर पर कुछ दिनों तक मालिश कराइये इससे पुन: स्फूर्ति आ जाएगी, दिमाग की कमजोरी भी दूर हो जाएगी।

14.उड़द की दाल :– रात को उड़द की दाल को भिगोकर सुबह उसे पीस लें और फिर इसमें दूध और मिश्री मिलाकर खायें। इससे भी दिमाग बहुत तेज हो जाता है।

15.गाजर का हलुआ :–अपने दिमाग को सक्रिय रखने के लिए सर्दियों में शुद्द घी में बना गाजर का हलुआ खाना चाहिए । समय समय पर गाजर के हलवे का सेवन करने से भी दिमाग की कमजोरी समाप्त होती है।

गाजर में एन्टी ओक्सीडेंट तत्व पाये जाते हैं। इसके सेवन से हमारी आँखों, दिल, और दिमाग को ताकत मिलती है गाजर के नित्य से वन से हमारी रोग प्रतिरक्षा प्राणाली भी मजबूत बनती है । स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए गाजर का भी नित्य सेवन करें ।

16.तिल :–तिल स्मरण शक्ति बढ़ाने में बहुत सहायक माना जाता हैं । तिल और गुड को मिलाकर उसका तिलकुट्टा बनाकर नित्य सेवन करने से यादाश्त बढ़ती है।

17. मुलहठी :– मुलहठी के नित्य सेवन से बुद्धि तेज होती है। पढ़ने वाले / प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्र छात्राओं को तो इसका उपयोग नियमित रूप से करना ही चाहिए।

हमें पूर्ण विश्वास है कि इनमें से कुछ उपाय नियमित रूप से करने से किसी भी व्यक्ति का दिमाग अवश्य ही तेज हो जायेगा ।

Comments

comments