इन वस्तुओं से जुड़े होते हैं शकुन-अपशकुन

0
1082

इन वस्तुओं से जुड़े होते हैं शकुन-अपशकुन

अगर कपड़े पहनते समय कोट या शर्ट के बटन गलत लग जाएं तो माना जाता है कि इससे बनते काम बिगड़ जाते हैं। वहीं अगर रास्ते में गिरा हुआ बटन मिल जाए तो यह इशारा नए दोस्त बनने की तरफ है। ayein jantein hai iss video mai ऐसी ही कुछ और वस्तुओं के बारे में जो शकुन-अपशकुन की तरफ इशारा करती हैं।

कहा जाता है कि पर्स कभी भी खाली नहीं रखना चाहिए। कपड़े की हर जेब में पैंसे रखें। यह एक अच्छा शकुन है।

दूध का उबलकर गिरना शुभ माना जाता है। वहीं दूध का बिखर जाना अशुभ संकेत है। यह किसी दुर्घटना की ओर संकेत करता है।

चाकू के बिना रसोई नहीं चल सकती है इसलिए इससे कई शकुन-अपशकुन जुड़े हैं। खाने की मेज पर अगर चाकू क्रॉस करके रखा गया है तो यह अशुभ संकेत है। चाकू का मेज से गिरना भी शुभ नहीं माना जाता।

चाबियों का सीधा संबंध घर और गृहणी से है। अगर गृहणी के पास ऐसा चाबियों का गुच्छा है जिसमें बार-बार सफाई के बाद भी जंग लग जाता है तो इसका मतलब उसे धन प्राप्त होने वाला है। बच्चों के तकिए के नीचे चाबियों का गुच्छा रखने से उन्हें रात को बुरे सपने नहीं डराते।

आटे का संबंध घर की रसोई से होता है अगर आटा गूंथते समय थोड़ा सा आटा बाहर गिर जाए तो इसका मतलब है कि आपके घर कोई मेहमान आने वाला है। यह एक अच्छा संकेत है।

घर में टूटा हुआ आईना रखना अपशकुन माना जाता है। अगर हाथ से छूटकर आईना टूट जाए तो यह भी अपशकुन की ओर संकेत करता है।

कहा जाता है कि रुई एक अच्छा शकुन है। रुई अगर किसी व्यक्ति के कपड़ों से चिपकी हुई मिले तो इसका मतलब है कि उस व्यक्ति को कहीं से शुभ समाचार मिलने वाला है।

सुबह-सुबह पानी या दूध से भरी हुई बाल्टी देखना अच्छा शकुन माना जाता है। कहा जाता है कि भरी बाल्टी देखने से काम पूरे होते हैं वहीं खाली बाल्टी देखना अपशकुन समझा जाता है।

झाड़ू को लक्ष्मी जी का प्रतीक माना जाता है। झाड़ू पर पांव रखना मतलब आई हुई लक्ष्मी को ठुकराना है, इसलिए यह एक अपशकुन है। दिवाली के दिन नया झाड़ू लेना शुभ संकेत है।

Comments

comments