धन प्राप्ति के मंत्र और उपाय

5150

धन प्राप्ति के लिए

अगर आपका धन किसी वयक्ति फर्म या किसी कंपनी में या  कही अटका हुआ है और वापिस नहीं आ रहा ! धन प्राप्ति के लिए इस मंत्र का प्रयोग दी गयी विधि से करे आपको शीघ्र ही धन की प्राप्ति होगी

Mantra :- 
“ॐ नमः कर घोर-रुपिणि स्वाहा”
विधिः उक्त मन्त्र का जप प्रातः 11 माला देवी के किसी सिद्ध स्थान या नित्य पूजन स्थान पर करे। रात्रि में 107 मिट्टी के दाने लेकर किसी कुएँ पर तथा सिद्ध-स्थान या नित्य-पूजन-स्थान की तरफ मुख करके दायाँ पैर कुएँ में लटकाकर व बाँएँ पैर को दाएँ पैर पर रखकर बैठे। प्रति-जप के साथ एक-एक करके 107 मिट्टी के दाने कुएँ में डाले। ग्यारह दिन तक इसी प्रकार करे। यह प्रयोग शीघ्र आर्थिक सहायता प्राप्त करने के लिए है।

लक्ष्मी प्राप्ति यन्त्र और मन्त्र :- 

लक्ष्मी प्राप्ति यन्त्र

धन प्राप्त करने के लिए उपाय:

1.गुरूवार के दिन का स्वामी देव गुरू बृहस्पति को माना गया है। गुरू धर्म और धन के स्वामी ग्रह हैं। धन संबंधी परेशानी दूर करने के लिए हर गुरूवार के दिन किसी सुहागन स्त्री को सुहाग सामग्री दान करें।

2.अपनी आदत में इस बात को शामिल करें कि जब भी कहीं से घर वापस लौटकर आएं तो कुछ भी साथ में लेकर जरुर आएं। खाली हाथ घर बिल्कुल भी नहीं आएं।

3.धन लक्ष्मी की वृद्घि के लिए सोमवार या फिर शुक्रवार के दिन सफेद वस्तुओं का दान करें। सफेद वस्तु दूध, चीनी, सफेद वस्त्र कुछ भी हो सकता है।

4.काली हल्दी को नकारात्मक शक्तियों को दूर करने वाला माना गया है। किसी भी दिन एक काली हल्दी लाकर पूजा स्थान में रखें। नियमित इसे धूप दीप दिखाएं। जब भी कभी धन संबंधी काम से कहीं जाएं तो इसके दर्शन करलें।

5.हर दिन काम पर जाते से कुछ धन कहीं छुपा कर रख दें। जब शाम को घर लौटें तो इस धन को किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दान कर दें। शनिवार के दिन किसी सफाइकर्मी को दान देने से भी आर्थिक बाधाएं दूर होती है।

6.शीघ्र धन प्राप्ति के लिए

“ॐ नमः कर घोर-रुपिणि स्वाहा”

विधिः उक्त मन्त्र का जप प्रातः ११ माला नित्य पूजन स्थान पर करे।

 

Comments

comments