गहने सिर्फ सुंदरता नहीं बढ़ाते, सेहत भी बनाते हैं

853

What are the health benefits of wearing jewelry | गहने सिर्फ सुंदरता नहीं बढ़ाते, सेहत भी बनाते हैं

गहने और रत्न सिर्फ हमारी सुंदरता ही नहीं बढ़ाते बल्कि सेहत से जुड़े कई फायदे भी देते हैं। इसकी वजह से यह है कि गहने पहनने का प्रभाव सीधे तौर पर हमारे शरीर पर पड़ता है। आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें और जानें कौन से धातु के गहने शरीर के लिए किस तरह लाभदायी हैं-

1. सोना
सोने के बारे में कहा जाता है कि सोना, बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम कर देता है। सोने में एंटी-इन्फ़्लेमेट्री गुण होते हैं जो इंसान के चेहरे की रौनक को बढ़ा देते है। सोना पहनने से शरीर में ऊर्जा और ताकत भी आती है।

2. चांदी
चांदी के गहने पहनने से हाई ब्‍लड प्रेशर में राहत मिलती है और हड्डियां भी मजबूत रहती हैं। चांदी के गुण, खून तक पहुंच जाते हैं और ये शरीर में होने वाले दर्द को भी समाप्त कर देते हैं।
3. मोती
मोती पहनने से पाचन तंत्र से जुड़ी समस्‍याएं दूर होती हैं। साथ ही इससे दिल की बीमारी होने का खतरा भी कम हो जाता है। यह आपको भावनात्‍मक रूप से संतुलित रखता है और मन को शांत बनाता है। यदि आप इमोशनल और सेंसटिव व्‍यक्ति हैं तो मोती के गहने जरुर पहनें।

4. नीलम
नीलम मन को शांत रखता है और दिमाग को चिंता मुक्‍त बनाता है। जिन लोगों का मन अशांत रहता हो और मूडी स्वभाव के हों तो उन्हें नीलम पहनना चाहिए।

5. गार्नेट या रक्तमणि
गार्नेट एक ऐसा रत्‍न है जिसे ज्‍योतिषों से सलाह लेने के बाद ही पहनना चाहिए। इसके प्रभाव और दुष्‍प्रभाव काफी तेज होते हैं। इसे पहनने से शरीर में ऊर्जा की बढ़ोतरी होती है और आत्‍मविश्‍वास भी बढ़ता है।

6. ऐक्‍वामरीन
इसे फ़िरोज़ा या हरितानील रत्न कहते हैं। इसे पहनने से सकारात्‍मक ऊर्जा आती है और व्‍यक्ति पहले से ज्‍यादा खुश रहता है। साथ ही यह रत्‍न, पाचन तंत्र, आंखों और दांतों के लिए भी लाभकारी माना जाता है।

यूं तो वास्तुशास्त्र और फेंगशुई दोनों के ही प्राचीन ग्रंथों में घर के अंदर टॉइलट को निषेध किया गया है जबकि बाथरूम का घर के अंदर होना शुभ माना गया है। लेकिन आज की जीवनशैली में छोटे से मकान में टॉइलट और बाथरूम एक ही में होते हैं और वो भी एक से ज्यादा…ऐसे में टॉइलट, बाथरूम बनाते समय कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखें।

Comments

comments