वोडका से कैसे बढ़ायें त्वचा और बालों की सुंदरता

714
    • सौंदर्य के लिए फायदेमंद होता है वोडका का प्रयोग।
    • त्वचा और बालों को बनाता है मुलायम और सुंदर।
    • मृत कोशिकाओं को हटाकर चेहरे को निखारता है।
    • वोडका मिला कर लगाने से बाल मुलायम बनते हैं।
     वोडका पीना सेहत के लिए भले ही फायदेमंद नहीं माना जाता हो, पर ये आपके सौंदर्य में बढ़ावा जरूर देता है।त्वचा और बालों को बेहतर बनाने के लिए वोडका का प्रयोग अच्छा माना जाता है।वोडका में विटामिन बी के साथ साथ फास्‍फोरस, पोटैशियम और सोडियम जैसे मिनरल भी पाए जाते है |  त्वचा में कसाव लाने के लिए, झुर्रियाँ कम करने में, शुष्क और खुरदुरी त्वचा के लिए और दमकती त्वचा, बालों को मुलायम बनाने के लिए वोडका का प्रयोग फा फायदेमंद होता है।
  • वोडका को चेहरे पर लगाने से त्वचा के खुले पोर्स बंद हो जाते है,जो त्वचा मे कसावपन लाता है। इसके कारण त्वचा मुलायम दिखने लगती है।वोडका त्वचा को मुलायम बनाकर उसकी रंगत निखारता है। त्वचा की रंगत निखारने के लिए यह बहुत ही अच्छा प्राकृतिक उपाय है। चेहरे पर चमक भरनी हो तो आप थोड़े से वोडका को कॉटन बॉल में लगा कर चेहरे पर लगा सकती हैं। इससे मुर्झाया हुआ चेहरा बिल्‍कुल खिल उठेगा और चेहरे पर चमक आ जाएगी।
  • वोडका में स्‍टार्च होता है जो लटकती हुई त्‍वचा को टाइट बनाने में मदद करता है। इसके नियमित प्रयोग से बारीक धारियां गायब हो जाती हैं।वोडका में एंटीबैक्‍टीरियल गुण होते हैं इसलिये मुंहासों पर वोदका लगाने से मुंहासे जल्‍द ही सूख जाते हैं।
  • वोडका त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाता है और त्वचा के रक्त संचार को दुरुस्त करता है। यह त्वचा की रंजकता दूर करता है तथा खोये रंग को लौटाता है। इस पैक को बनाने के लिए शहद, एलो वेरा जेल तथा वोडका को आपस में मिलाएं। इस पैक को चेहरे पर लगाएं तथा 1 घंटे के लिए छोड़ दें। इसे गर्म पानी से अच्छे से धो लें।
  • यदि आपकी त्‍वचा पर किसी ज़हरीले कीड़े ने डंक मार दिया है और उसके कारण त्‍वचा लाल हो गई है और दर्द हो रहा हो तो वोदका से इस दर्द के साथ-साथ इन चकत्‍तों को भी दूर किया जा सकता है। त्‍वचा की जिस जगह पर ज़हर फैला हो उस जगह पर वोदका लगाने से आराम मिलता है।
  • अपने शैंपू में थोड़ा सा वोडका मिला कर लगाने से बाल मुलायम बनते हैं तथा उनमें नमी आती है। साथ ही रूखे-सूखे बाल ठीक हो जाते हैं।वोडका में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो फंगस और बैक्‍टीरिया का खात्‍मा करता है। यही बैक्‍टीरिया सिर में रूसी का कारण बनते हैं। इसके लिये आपको अपने शैंपू में कुछ बूंद वोदका की मिलानी होंगी और फिर उससे सिर धोना होगा।

बालों और त्‍वचा को वोडका से साफ करने से त्‍वचा तथा बालों से गंदगी साफ करने की क्षमता होती है। इसे लगाने से त्‍वचा और बाल सुंदर और स्‍वस्‍थ बनते हैं।

Comments

comments

LEAVE A REPLY