प्रेरणादायक अनमोल वचन

4604

जीवन में किसी का भला करोगे,तो लाभ होगा…क्योंकि भला का उल्टा लाभ होता है ।

कुए में उतरने वाली बाल्टी यदि झुकती है,तो भरकर बाहर आती

जीवन का भी यही गणित है,जो झुकता है वह प्राप्त करता है…

जीवन में किसी पर दया करोगे, तो वो याद करेगा…क्योंकि दया का उल्टा याद होता है।

भरी जेब ने ‘ दुनिया ‘ की पहेचान करवाई और खाली जेब ने ‘ इन्सानो ‘ की.

जब लगे पैसा कमाने, तो समझ आया,शौक तो मां-बाप के पैसों से पुरे होते थे,

किनारे पर तैरने वाली लाश को देखकर ये समझ आया .. .बोझ शरीर का नही साँसों का था..

सर झुकाने से नमाज़ें अदा नहीं होती…!!!दिल झुकाना पड़ता है इबादत के लिए…

पहले मैं होशियार था,इसलिए दुनिया बदलने चला था,आज मैं समझदार हूँ,इसलिए खुद को बदल रहा हूँ.

बैठ जाता हूं मिट्टी पे अक्सर…क्योंकि मुझे अपनी औकात अच्छी लगती है.

नज़र और नसीब का कुछ ऐसा इत्तेफाक हैं कि नज़र को अक्सर वही चीज़ पसंद आती हैं; जो नसीब में नहीं होती:! और नसीब में लिखी चीज़ अक्सर नज़र नहीं:!!

किस्मत पहले ही लिखी जा चुकी है; तो कोशिश करने से क्या मिलेगा? क्या पता किस्मत में लिखा हो कि कोशिश से ही मिलेगा:!!

ज़िन्दगी में कुछ खोना पड़े तो यह दो लाइन याद रखना: ‘जो खोया है उसका ग़म नहीं लेकिन जो पाया है वो किसी से कम नहीं:!’

इन्सान केहता है कि पैसा आये तो मैं कुछ करके दिखाऊ; और पैसा केहता हैं कि तू कुछ करके दिखाए तो मैं आऊ:!

बोलने से पेहले लफ्ज़ आदमी के गुलाम होते हैं; लेकिन बोलने के बाद इंसान अपने लफ़्ज़ों का गुलाम बन जाता हैँ:!!

ज्यादा बोझ लेकर चलने वाले अक्सर डूब जाते हैं; फिर चाहे वो अभिमान का हो; या सामान का:!!

जिन्दगी जख्मो से भरी हैं; वक़्त को मरहम बनाना सिख लें; हारना तो है मोतके सामने; फ़िलहाल जिन्दगी से जीना सिख लें:!!

Comments

comments