New sad status Hindi

3670

Zindagi ke mayne badal jaate hai tab….Jab koi kehta hai….Zarurat nhi tumhari ab..!! ???

ठुकराया हमने भी बहुतों को है…तेरी खातिर,,,तुझसे फासला भी शायद…उन की बददुआओं का असर हैं …!!!!

कुछ इसलिए भी लोगों से ताल्लुक कम रखता हूँ.., कल मर भी जाऊं तो किसी की आँखे नम ना हों…!

रिश्ते बनाना नही निभाना सीखो….

तुझे यकीन है मुझे भुला देगी हमेशा के लिये, और मुझे यकीन है तेरा ये गुरुर जरूर टूटेगा !!

वो पूछते है हमसे के हमे क्या हुआ है कैसे बताए उन्हे के उन्ही से इश्क़ हुआ है..?

*खुशियाँ बाँटते बाँटते पता ही नही चला**कब अपनी खुशियाँ भी बाँट दी लोगो में*

अपने वजूद पर इतना न इतरा ए ज़िन्दगी..वो तो मौत है जो तुझे मोहलत देती जा रही है!!

तुम्हारी याद की शिद्दत में बहने वाला अश्क ज़मीं में बो दिया जाए तो आँख उग आए..!!

छोटा है मुहब्बत लफ्ज, मगर तासीर इसकी प्यारी है. इसे दिल से करोगे तुम, तो ये सारी दुनियाँ तुम्हारी है.

दामन को फैलाये बैठे हैं अलफ़ाज़-ए-दुआ कुछ याद नही माँगू तो अब क्या माँगू जब तेरे सिवा कुछ याद नही

तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना, हम जान दे देते हैं मगर जाने नहीं देते !!

उम्र छोटी है तो क्या, ज़िंदगी का हरेक मंज़र देखा है, फरेबी मुस्कुराहटें देखी हैं, बगल में खंजर देखा।

वो खुद पर गरूर करते है, तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं, जिन्हें हम चाहते है, वो आम हो ही नहीं सकते !!

तुम खुश-किश्मत हो जो हम तुमको चाहते है वरना, हम तो वो है जिनके ख्वाबों मे भी लोग इजाजत लेकर आते है..!!

मैं नींद का शोकीन ज्यादा तो नही..लेकिन तेरे ख्वाब ना देखूँ तो.. गुजारा नही होता..!!

मेने भी बदल दिए अपने ज़िंदगी के उसूल, अब जो याद करेगा वो याद रहेगा..!!

नमक की तरह हो गयी है जिंदगी, लोग स्वादानुसार इस्तेमाल कर लेते हैं

वफ़ा के वादे वो सारे भुला गयी चुप चाप, वो मेरे दिल की दीवारें हिला गयी चुप चाप।

उनसे कहना की किस्मत पे इतना नाज़ ना करो.! हमने बारीश में भी,जलते हुए मकान देखे हैं.!

जिंदगीमें बडी शिद्दत से निभाओ अपना किरदार, कि परदा गिरने के बाद भी तालीयाँ बजती रहे…।

ज़हासे तेरी बादशाही खत्म होंती हे, वहासे मेरी नवाबी सुरु होती हे

नफरतों को जलाओ… मुहब्बत की रौशनी होगी… इंसान तो जब भी जले… राख ही हुऐ ।।

आपकी घड़ी कितनी भी कीमती हो, वक़्त तो ऊपर वाले के हिसाब से चलता है.

तूने हमें छोड दिया कोई बात नहीं , हम दुआ करेंगे कोई तुझे ना छोडे किसी और के लिए|

सिर्फ लफ़्ज़ों को न सुनो, कभी आँखें भी पढो .. कुछ सवाल बड़े खुद्दार हुआ करते है.

मजा आता है किस्मत से लड़ने में, किस्मत आगे बढ़ने नहीं देती और मुझे रुकना आता नहीं..!!

आज पगली बरसो बाद मिली और गले लगकर रोने लगी…जानते हो वो वही थी जिस ने कहा था की तेरे जैसे हजारो मिलेंगे…..

इश्क में इसलिए भी धोखा खानें लगें हैं लोगदिल की जगह जिस्म को चाहनें लगे हैं लोग

अब शिकायतेँ तुम से नहीँ खुद से है.. माना के सारे झूठ तेरे थे.. लेकिन उन पर यकिन तो मेरा था!!

एहसास अल्फाजों के मोहताज नहीं होते.फिर क्यों तेरे हर लफ्ज़ का बेसब्री से इंतजार रहता है

मुश्किल नहीं है कुछ दुनिया में, तू जरा हिम्मत तो कर… खवाब बदलेगें हकीकत में.. तू ज़रा कोशिश तो कर।

मुझे मालूम था के लौट के अकेले ही आना है , फिर भी तेरे साथ चार कदम चलना अच्छा लगा.

जाने कितनी रातो की नींदे ले गया वो.. जो पल भर मोहब्बत जताने आया था..

काश मैं लौट जाऊँ बचपन की उन गलियों में… जहां ना कोई ज़रूरत थी, ना कोई ज़रूरी था.

दो चीजो के बिना मैं रह नहीं सकता एक तेरा एहसास दूसरा तेरा मुझपे विश्वास

हमारे दो ‪‎शोख‬ बहुत पुराने हे एक ‪‎दोस्तों‬ के साथ ‪‎photoshoot‬ करना और… दूसरा हमसे जो ‪‎दुश्मनी‬ करे उसे ‪shoot‬ करना.

बहोत अंदर तक जला देती हैं, वो शिकायतें… जो कभी बयाँ नहीं होती…!! ‪

सुकून उतना ही देना प्रभू, जितने से जिंदगी चल जाये। औकात बस इतनी देना, कि औरों का भला हो जाये।

ये जो हमदर्दॅ होते है….. यकी मानो दोस्त ..दर्द उन्ही से मिलते है..!!

मुझे किसी के बदल जाने का गम नही है, बस कोई था जिससे ये उम्मीद नही थी..!!

तेरी सिर्फ एक निगाह ने खरीद लिया हमें…. बड़ा गुमान था हमें की हम बिकते नहीं…

कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी, एक मै हूँ और एक दोस्ती तेरी!!

इंसान को इंसान धोखा नहीं देता है बल्कि… वो उम्मीदें धोखा दे जाती हैं जो वो दूसरों से रखता है।।

तुम दूर हो या पास फर्क किसे पड़ता है, तू जँहा भी रहे तेरा दिल तो यँही रहता है..!!

देख लो उनके नफरतो के सितम …… तेल ना बाती, फिर भी जल रहे है .

सुनो ये बादल जब भी बरसता है, मन तुझसे ही मिलने को तरसता है..!!

परिवर्तन संसार का नियम है। जिसे तुम मृत्यु समझते हो, वही तो जीवन है…

रिश्ते खराब होने की एक वजह ये भी है, कि लोग अक्सर टूटना पसंद करते है पर झुकना नहीं!

चलो अब जाने भी दो….क्या करोगे दास्तां सुनकर,,, ख़ामोशी तुम समझोगे नही….और बयां हमसे होगा नही !

तासीर इतनी ही काफी है की वो मेरा दोस्त है, क्या ख़ास है उसमे ऐसा कभी सोचा ही नही

अजीब दस्तूर है, मोहब्बत का, रूठ कोई जाता है, टूट कोई जाता है

शौक से बदलो मगर इतना याद रखना.. ऐ यार मेरे!.. हम जो बदले तो करवटें बदलते ही रह जाओगे!

ऐसा जीवन जियो कि अगर कोई आपकी बुराई भी करे तो कोई उस पर विश्वास ना करे।

Comments

comments