व्यापार दोष को दूर करने के उपाय

2237

बहुत से लोग तंत्र मन्त्र पर विश्वास नहीं करते तो कुछ इसे ठगी का साधन कहते है. बिना इस विद्या को गहराई से जाने यह सब बाते व्यर्थ है जो तंत्र पर विश्वास करता है वह भली भाति जानता है की यह विद्या कोई मामूली चीज़ नहीं है.

वास्तव में तंत्र एक प्रकार का विज्ञानं है जो प्रयोग में विश्वास रखता है, इसके बारे में विस्तार से एवम गहराई से जानने के लिए व्यक्ति को एक सच्चे साधक व गुरु की आवश्यकता पड़ेगी.

तंत्र के प्रायोगिक क्रियाओ को करने के लिए तांत्रिक अथवा साधक को ईश्वर को पाने का एक प्रकार का नशा होना चाहिए तथा जिस उस प्रयोग से जिस वस्तु की वह कामना कर रहा है उसके प्रति तीव्र नशा होना चाहिए. इसी के साथ व्यक्ति अथवा साधक को तन्त्र, मन्त्र एवम यंत्र का भली भाति ज्ञान होना आवश्यक है.

व्यापार दोष को दूर करने के उपाय 

जब किसी व्यापारी के दूकान, फेक्ट्री, या कंपनी में अचानक से व एक साथ अनेक प्रकार की बाधाये आ टूटती है जैसे कंपनी अथवा व्यापारी का व्यापार पूरी तरह से कम होने लगता है या नुक्सान की वजह से पूरी तरह ही व्यापार  बंद करने की स्थिति आ जाती है तो इस प्रकार के स्थिति कहलाती है व्यापार अथवा कार्य बंधन दोष .

यदि ये सब आपके साथ अथवा आपके सगे सम्बन्धी अथवा मित्र के साथ हो रहा हो तो आज हम आपको इस दोष से मुक्ति प्राप्त करने का उपाय बताने जा रहे है. परन्तु इस उपाय को करने में यह बात अवश्य ध्यान रखे की उपाय के हर कार्य को सिर्फ वही व्यक्ति करे जो इस प्रकार के दोष एवम बाधाओ से जूझ रहा हो.

उपाय बहुत ही सरल तथा कोई भी व्यक्ति इसे आसानी से कनरे में सक्षम है.

व्यक्ति को एक लोटे में जल लेकर दूकान अथवा कंपनी के प्रवेश द्वार पर जल धार बनाना है तथा इसके बाद ही अंदर प्रवेश करना है. यह उपाय व्यापार बंधन के दोष को तोड़ देगा तथा आपकी कंपनी अथवा दूकान फिर से चलने लगेगी.

Comments

comments